नासा का insight यान लाल गृह पर पहुँचने में कामयाब – मिलेगी बहुत सी जानकारियाँ

अमेरिकी अन्तरिक्ष एजेंसी नासा ( NASA ) का मार्स इनसाईट लेंडर सोमवार रात यानि 26 नवम्बर को लाल गृह कि धरती पर उतर गया . इसके साथ ही अमेरिका में बधाइयो का दौर सुरु हो गया . मार्स इनसाईट लेंडर को insight यान भी नाम दिया गया है . इसने मंगल पर पहुंचकर यहाँ कि धरती कि पहली तस्वीर भेजी . वैज्ञानिक मान रहे है कि इससे हमें पृथ्वी के बारे में और अधिक जानकारी मिल सकेगी .

नासा का insight यान लाल गृह पर पहुँचने में कामयाब - मिलेगी बहुत सी जानकारियाँ

नासा का insight यान करीब सात साल बाद अपने लक्ष्य पर पहुंचा . यह नासा का मंगल गृह पर आठवीं सफल लेडिंग है आपको बता दे कि नासा का यह यान मंगल गृह के बाहरी वातावरण में 19800 किलोमीटर कि रफ़्तार से प्रवेश किया था और इसकी धरती पर उतरते समय इसमें अपने स्पीड को बहुत कम कर लिया और लेंडिंग के समय इसकी स्पीड 8 किलोमीटर प्रतिघंटा थी .

2012 के बाद नासा का पृथ्वी के बाहर इसके पड़ोसी गृहों पर किसी स्पेसक्राफ्ट को लेंड करवाने का पहला प्रयाश था .पांच मई को लाँच किया गया मार्स इंटीरियर एक्सपलोरेशन यूजिंग सीस्मिक इन्वेस्टीगेशंस , जियोडेसी एंड हिट ट्रांसपोर्ट ( इनसाइट ) लेंडर 2012 में ” क्युरीयोसिटी रोवर ” के बाद मंगल पर उतरने वाला नासा का यह पहला अन्तरिक्ष यान है .

इस अभियान से जुड़े वैज्ञानिको का कहना है कि यह यान मंगल गृह कि आंतरिक सरचना का अध्ययन करने के लिए सिस्मोमीटर का उपयोग करेगा . जिससे हमे पता चल सकेगा कि मंगल गृह का निर्माण कैसे हुआ और यह हमारी धरती से इतना अलग क्यों है .

नासा के इस मिशन को कंट्रोल करने वाले ओपरेटर ने इस यान कि लेंडिंग कि पुष्टि कि . आपको बता दे कि इससे पहले दुनियाभर से कई अन्तरिक्ष एजेंसियों द्वारा रोवर्स , कक्षाओ और जाँच के साथ मंगल गृह तक पहुँचने के 43 से ज्यादा प्रयास किये जा चुके थे जो दुर्भाग्य से असफल रहे .

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *